रोहित शेखर मर्डर केस में चार्जशीट फाइल कर सकती है। सूत्रों का कहना है कि जांच टीम रोहित की पत्नी अपूर्वा शुक्ला को ही इस चार्जशीट में मुख्य आरोपी बनाएगी।

रोहित शेखर मर्डर केस में चार्जशीट फाइल कर सकती है। सूत्रों का कहना है कि जांच टीम रोहित की पत्नी अपूर्वा शुक्ला को ही इस चार्जशीट में मुख्य आरोपी बनाएगी।
 
 
 
 
 

दिल्ली। दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच अगले 2 दिनों में रोहित शेखर मर्डर केस में चार्जशीट फाइल कर सकती है। सूत्रों का कहना है कि जांच टीम रोहित की पत्नी अपूर्वा शुक्ला को ही इस चार्जशीट में मुख्य आरोपी बनाएगी। 35 साल की अपूर्वा पर पूर्व केंद्रीय मंत्री एनडी तिवारी के पुत्र की हत्या का आरोप है। दिल्ली की डिफेंस कॉलोनी में रोहित के बेडरूम में ही उनकी लाश मिली थी।

बीती 1 मई को यह खबर समाचार पत्रों प्रकाशित की गई थी कि अपूर्वा को रोहित पर शक था। आरोपी अपूर्वा को शक था कि रोहित का संबंध उनकी एक महिला रिश्तेदार के साथ है और इस रिश्ते में महिला ने बच्चे को भी जन्म दिया है। अपूर्वा को यह भी आशंका थी कि रोहित के बच्चे को भविष्य में जायदाद का बड़ा हिस्सा मिल सकता है।

पुलिस सूत्रों का कहना है कि अपूर्वा ने अपनी असफल शादी को बचाने की भी कुछ कोशिश की थी। हालांकि, पति के तौर पर रोहित के व्यवहार से वह खासी नाराज थीं और दोनों के बीच काफी झगड़े थे। पुलिस सूत्रों का कहना है कि शादी से जुड़ी महत्वाकांक्षाओं के पूरा नहीं होने के कारण अपूर्वा बहुत तनाव में थीं और उन्हें आर्थिक स्थिति को लेकर भी कुछ संशय था। पुलिस ने बताया कि शादी के कुछ दिन बाद ही अपूर्वा रोहित का घर छोड़कर अपने मायके चली गई थी। हालांकि, कुछ ही दिनों बाद वह वापस भी लौट आई, लेकिन पति-पत्नी के बीच विवाद लगातार बढ़ता ही चला गया।

पुलिस की थिअरी को मजबूत करते हैं CCTV फुटेज
सूत्रों का कहना है कि रोहित शेखर मर्डर केस में अपूर्वा ही एक मात्र आरोपी हैं। अपूर्वा के खिलाफ परिस्थितिजन्य साक्ष्य तो हैं ही फरेंसिक और सीसीटीवी फुटेज भी पुलिस की थिअरी को पुख्ता करते हैं। रोहित ने अपने पिता एनडी तिवारी को अपना जैविक पिता साबित करने के लिए कोर्ट में कानूनी लड़ाई भी लड़ी थी।

गौरतलब है कि 16 अप्रैल को रोहित शेखर अपने डिफेंस कॉलोनी स्थित आवास में मृत पाए गए थे। शुरुआती जांच के बाद पुलिस ने इस मामले में उनकी पत्नी अपूर्वा को अरेस्ट किया था। 24 अप्रैल को अपूर्वा को दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार किया था।